इंटीरियर डिजाइनिंग में कैरियर

अगर आप के अंदर कलात्मकता और रचनात्मकता है और आप घर, कॉर्पोरेट हाउस या किसी ओर सजावट में एक अलग नजरिया रखते हैं तो इं‍टीरियर डिजाइनर बनकर अपने भविष्य को रोशन कर सकते हैं।

इंटीरियर डिजाइनिंग ऐसा करियर क्षेत्र है जिसमें आपके लिए देश में ही नहीं विदेश में भी करियर अवसर रहते हैं। दिनोदिन आधुनिक होते समाज में इंटीरियर डिजाइनर्स की मांग काफी बढ़ गई है । 10वीं पास करने के ‍बाद आप इंटीरियर डिजाइनर का डिप्लोमा कोर्स कर सकते हैं । इंटीरियर डिजाइनिंग का कोर्स 3 साल का हो सकता है । आर्ट्‍स विषय के विद्यार्थियों के लिए यह एक अच्छा ‍करियर विकल्प हो सकता है । इंटीरियर डिजाईन में डिग्री course भी होते हैं. जैसे कि B.A. in Interior Design. ये कोर्स 12वीं के बाद होते हैं या डिप्लोमा के बाद किये जा सकते हैं.

इसके अंतर्गत आप ऑफिस डिजाइनिंग, बिजनेस डिजाइनिंग, किचन डिजाइनिंग, रूम्स डिजाइनिंग में विशेषज्ञता भी हासिल कर सकते हैं । बदलते ट्रेंड को समझना जरूरी है । इंटीरियर डिजाइन को निजी व्यवसाय के रूप में भी अपना सकते हैं ।

इंटीरियर डिजाइन के डिप्लोमा या डिग्री कोर्स आप निम्न संस्थानों से कर सकते हैं-

– स्वामी विवेकानंद यूनिवर्सिटी

– RKDF यूनिवर्सिटी
– राज्य टेक्निकल बोर्ड जैसे MSBTE

– भारत सरकार द्वारा recognized अन्य पॉलिटेक्निक, कॉलेज या यूनिवर्सिटी

हम आपकी सहायता कर सकते हैं –

 आप हमें contact करें. हमारे काउंसलर से मिलें. वह आपकी पूरी मदद करेंगे. निःशुल्क.

Source : webduniya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Share