Author Archive

जब तक महिलाएं नहीं चाहेंगी दहेज या लेन देन बंद नही होगा

“बेटा, पाण्डे जी लड़का बहुत अच्छा है, बहुत बढ़िया सैलरी है, अपनी बहन के लिए देख लो, अगर लेन देन की बात होगी तो तुम संभाल लेना, जो माँगेंगे देख लेना, 10-20 जादा भी

फ्रेंड व टेलीपैथी

25 सेप्टेंबर की बात है, सुबह सुबह मेरा मन नही लग रहा था । मैंने घर में कहा कि मैं आज रात घर नही आऊंगा । नामदेव से मिलने जाऊंगा । पत्नी बोली कि

समाज टूट रहा है

पता नही यह समस्या शहरों में ही है या गाँवो में भी घुस चुकी है ? अजय वर्मा जी लखनऊ के हैं । पिछले 10 साल से मुंबई में हैं । प्रॉपर्टी एजेंट हैं

इंजीनियरिंग के अलावां भी दुनिया है

हमें एक फोटोग्राफर चाहिए था । लखनऊ के आशियाना वाले अभिलाष को फोन किया । लड़का युवा है । अभी 24 के आस पास होगा । उसने कहा कि अंकल, आप आशियाना के गजब

ये कैसी सफलता

बदलती परिभाषाएं पहले सफलता = (पढ़ाई करना, नौकरी करना, काम करना, कमाना, घर परिवार की देखरेख करना, दादा दादी की सेवा करना, माता पिता की सेवा करना) अब सफलता = (बहुत ऊंची पढ़ाई करना,

Love you Sambhav

इस चित्र में जो सबसे छोटा बच्चा है, जिसका मैं फूफा हूँ, उसका नाम “संभव” है । आज मैं संभव से लखनऊ में मिला । संभव से हुई बातचीत सुनिए – – तुम बहुत

आप ने हमारे लिए किया ही क्या है

मैं संपर्क क्रांति ट्रेन में बैठा हूँ । ट्रेन दिल्ली से काठगोदाम जा रही है । सभी यात्री अपने आप में खोए हैं । कोई मोबाइल में वीडियो देख रहा है । कोई इयरफोन

मथुरा दर्शन

        बात इसी जन्माष्टमी की है । मुंबई से हम 15 लोग मथुरा वृंदावन गए । 21 अगस्त की रात यात्रा शुरू हुई । 22 की शाम मथुरा पहुंचे । फैब

प्रेम बना रहे

Brij Mohan से फेसबुक पर मुलाकात मोदी जी के 2013-14 के चुनाव प्रचार के दौरान हुई । पता नही कब वह मुझे गुरु जी कहने लगा और मेरे लिए पुत्र समान हो गया । हर

क्या पढ़ें कि स्वस्थ रहें

क्या पढ़ें कि स्वस्थ रहें ? दो तरह के लेखक होते हैं, एक प्रश्नात्मक व नकारात्मक, दूसरा आशावादी व सकारात्मक, दूसरे वाले को पढ़िए, आप स्वस्थ रहेंगे । प्रश्नात्मक व नकारात्मक लेखक आपको चिंता