Celebrations Archive

प्यार सभी को

जब हम छोटे थे, जब अमेठी के गांव में थे, गांव के युवा लोग होली के दिन, दोपहर बाद, एक गांव से दूसरे गांव जाते थे, होली मिलने । बड़ो के चरण स्पर्श करते

शादी का लंहगा

मेरी पत्नी ने मुझे बताया कि उसे जयपुर जाना है। “अचानक जयपुर क्यों?” “सलोनी की शादी तय हो गई है, इसलिए।” “तो, क्या सलोनी की शादी जयपुर में है?” “नहीं बाबा, शादी में पहनने

तू बहन हमारी है, सबसे प्यारी है

दुनिया की मेरी सारी बहनो के लिए –   धागा तू बांध पाए या नहीं मन का धागा बंधा हुआ है तेरे प्यार दुलार में बहना एक एक मोती गुथा हुआ है तू खुश

अच्छे दिन आयेंगे

दुःख का समय छट जाएगा गम का समय कट जाएगा सूरज पूरब सेआएंगे आशा की लाली लाएंगे बारिश की बूंदे आएंगी खेती अपनी लहलाहेगी गीत खुशी के गाएंगे अच्छे दिन आयेंगे   आशावाद  

पिज्जा – आठ टुकड़े खुशियों के

पत्नी ने कहा – आज धोने के लिए ज्यादा कपड़े मत निकालना… पति- क्यों?? उसने कहा..- अपनी काम वाली बाई दो दिन नहीं आएगी… पति- क्यों?? पत्नी- गणपति के लिए अपने नाती से मिलने

पिताजी, हम हमेशा आप पर गर्व करेंगे

मैं छोटा था, बहुत छोटा, नर्सरी में दाखिला नहीं हुआ था, गावं में रहता था, माँ, दादी और घर के दो बैल करन अर्जुन के साथ । उमर पांच साल । पिताजी शहर में

सफलता खुशी देती है

सफलता हर एक को खुशी देती है. घर को, परिवार को, रिश्ते को, नाते को, मित्र को, समाज को, सभी को खुशी देती है. Success छोटी हो या बड़ी हो, मन खुश हो जाता

खुशियों का त्यौहार : बैसाखी

क्या है बैसाखी का त्यौहार  वसंत के आगमन की खुशी में हर साल बैसाखी का त्यौहार मनाया जाता है. बैसाखी उल्लास और खुशियों का त्यौहार है.  बैसाखी पंजाब व उत्तर भारत में बड़े धूमधाम

अप्रैल फूल

अप्रैल फ़ूल दिवस (April Fools Day) अर्थात् ‘मूर्ख दिवस’ को 1 अप्रैल के दिन विश्वभर में मौज-मस्ती और हंसी-मजाक के साथ एक-दूसरे को मूर्ख बनाते हुए मनाया जाता है। इस दिन लोग अपने मित्रों,

नवरात्रि (Navratri)

नवरात्रि – परिचय नवरात्रि (Navratri) हिन्दुओं का प्रमुख त्यौहार है। नवरात्रि का अर्थ होता है नौ रातें। इस पर्व में नौ रात और दस दिन तक आदि शक्ति के अलग अलग रूपों की आराधना की
Share