हिंदी में पढ़ें Archive

साथ रहिये और मुस्कुराइये

मेरे पति ने कुछ दिनों पहले घर की छत पर कुछ गमले रखवा दिए और एक छोटा सा गार्डन बना लिया । पिछले दिनों मैं छत पर गई तो ये देख कर हैरान रह गई

दोस्त

दोस्त वह होता है जो आप के लिए ऐसा कुछ करे कि आप जिंदगी भर याद रखें । Brijesh Singh मेरा वैसा ही दोस्त है । मेरे साथ स्कूल में था । मेरे साथ कॉलेज में

धन नहीं, मन से मिलती हैं खुशियां

खुशियां पाने के लिये सभी अमीर होना चाहते हैं। सभी को खुशियों का राज कागज के नोटों के रहस्य में नजर आता है। इस दुनियां में सभी ज्यादा से ज्यादा धन कमाना चाहते हैं

मेरे फूफा

मेरी तीन बुआ । तीनों  प्यारी । बहुत प्यारी । और तीन फूफा । एक से बढ़ कर एक । (1) सरदार जोगिंदर सिंह ….खूबियाँ इतनी कि उँगलियों पर गिननी मुश्किल … खुदा ने रंगत बख्शी

पिज्जा – आठ टुकड़े खुशियों के

पत्नी ने कहा – आज धोने के लिए ज्यादा कपड़े मत निकालना… पति- क्यों?? उसने कहा..- अपनी काम वाली बाई दो दिन नहीं आएगी… पति- क्यों?? पत्नी- गणपति के लिए अपने नाती से मिलने

पिताजी, हम हमेशा आप पर गर्व करेंगे

मैं छोटा था, बहुत छोटा, नर्सरी में दाखिला नहीं हुआ था, गावं में रहता था, माँ, दादी और घर के दो बैल करन अर्जुन के साथ । उमर पांच साल । पिताजी शहर में

मेरी बुआ

(1) जब मैंने लिखना सीखा ‘क ‘ माँ ने सिखाया ‘क’ से कमला …कमला मतलब मेरी बुआ । तीन बुआ में सबसे बड़ी । है भी बड़ी, बड़े दिल वाली, बेहद मीठी, शूगर कैण्डी।

माँ आसूं भर रह जाएगी

माँ, तुझे छोड़ मैं शहर चला जाता हूँ, बार बार, न जाने तू कैसे रहती होगी, बाबूजी हैं, भाई है, पर मैं तो नहीं । माँ, तेरी याद में – कल फिर वही कहानी

You are my best Friend

सच्चा मित्र वैसे तो हर पड़ोसी मित्र होता है, सामने से गुजरने वाला हर व्यक्ति मित्र होता है, हर फेसबुक मित्र, whatsapp मित्र, इंटरनेट मित्र भी मित्र होता है, समाज में हर कोई मित्र

कैसे बना शिक्षक ?

इंजीनियरिंग करने के बाद एक छोटी से नौकरी कर रहा था. Software programmer था । एक दिन हेगड़े साहब ऑफिस आए । बात बात में बोले – अरे अरुण, तुमने तो Pascal programming पढ़ा
Share