बातें Archive

लेखन में दिल कैसे जीता जाता है ?

लेखन में दिल कैसे जीता जाता है ? यह बहुत सरल कला है । कुछ बातों का ध्यान रखिए और बात बन जाएगी । 1. पाठक वर्ग – किसके लिए लिख रहे हैं, उसे

बेचारा आदमी

बेचारा आदमी गौरीगंज, अमेठी के गांव से मुंबई में आकर आदमी काम करने लगा । शादी हो गई । बच्चे हो गए । स्थिरता के लिए उसने फ्लैट ले लिया । एक दूकान ले

लिफ्ट में क्या हुआ

बात बहुत पर्सनल है, पर दोस्तों में क्या पर्सनल, सो बताए देते हैं 😊 मैं अपने स्कूल के दोस्त Anil से मिलने बड़ोदा गया । दोस्त गोरखपुर में रहते हैं । बड़ोदा आए थे

फलों से स्वागत करें

गोवा के राज्यपाल मृदुला सिन्हा जी ने एक लेख लिखा है जो पुरे  देश के हित में हैं अगर यह परंपरा पुरे देश में कायम हुआ तो देश तरकी की और अग्रसर होगी मृदुला

वकील कैसे बनें

वकील (lawyer) बारहवीं की परीक्षा पास करने के बाद छात्रों के सामने लॉ भी करियर बनाने का एक बेहतर विकल्प होता है कानूनी पेशा (लॉ )युवा वर्ग के बीच बीते कुछ सालो में बहुत

पति को कैसे सुधारें

प्रश्न बहुत कठिन है. कौन किसे सुधारे, यही तय करना कठिन होगा. फिर भी अगर लगे कि पति को सुधारना है तो नीचे लिखे टिप्स आजमाए जा सकते हैं.   १. अगर पति दूसरी

Jobs Problem & Solution

यूपी में BA, MA, BTech, MBA, PhD आदि बड़ी डिग्री वाले युवा सरकारी नौकरी के लिए चपरासी बनने को भी तैयार हैं और नाले साफ कर रहे हैं – न्यूज़ 😢 मैं इसके लिए

Flexible होना अच्छा होता है

मैंने पिछले कुछ सालों में कुछ सीखने के प्रयास में कुछ सीखा है । जो सबसे महत्वपूर्ण बात सीखी है वह यह है कि मित्रता जरुरी है । हमें भावनात्मक बल चाहिए । यह

राजनैतिक मित्र को पत्र

मकरंद भाई, आप की बात अलग है. आप प्रत्यक्ष या परोक्ष राजनीति में एक्टिव हैं. इसलिए आपकी विचारधारा पुर्णतः किसी एक दल से बंधी होगी. चूँकि हम राजनीति में नहीं है इसलिए हम आप

बहुत प्यारी हो तुम मीनू

किससे करें शिकायत हम दोनों एक दूसरे की 😊   मम्मी पापा से कर नहीं सकते, वो दुखी हो जाएंगे, खामखां । बात कोई गंभीर तो है नहीं, ये तो बस यूँ ही बात-बे-बात
Share