बातें Archive

खुशियां कहां है ?

खुशियाँ वहां हैं, जहां प्यार है ! हर जगह कुछ लोग ऐसे होते हैं, जो अच्छे नहीं लगते, जिनकी बातें दुःख पहुंचाती हैं. जो आपको नुकसान पंहुचाते हैं. जो आप पर व्यंग करते रहते

इस तरह पार्टनर को आप हमेशा रख सकते हैं खुश

हमेशा एक दूसरे को खुश रखने की एक सफल कोशिश करे। रिश्ते बनाना जितना आसान होता है, उसे हर परिस्थिति में निभाना उतना ही मुश्किल होता है। आज के परिवेश में यह बात काफी

काम में मन लगा कर लग जाओ

मेरे सारे हिंदुस्तान के भाइयों व बहनों नमस्कार काम में मन लगा कर लग जाओ । काम करने से आत्म बल और आत्म सम्मान मिलता है । काम करने से धन, सुख और यश

क्या खाएं जब चालीस के हो जाएं ?

इस उम्र के दौरान शरीर को हाई फाइबर फूड्स की जरूरत होती है । रेशों से भरपूर खाद्य पदार्थ हॉट फ्लैशेज से बचने का बेहतर उपाय है कि आप अपनी डाइट में हाई फाइबर

तनाव मुक्त रहें

हंसे, मुस्कराएं, ठहाके लगाएं (जोक्स पढ़ें, .… ) पुरानी मीठी बातें याद करे (जैसे कि पहली मुलाकात, …. ) बिना जलन वाला, सादा भोजन करें (दही, दूध, मठ्ठा जादा लें …. ) कला में

खुश कैसे रहें

सुना है उसके पास करोड़ों रूपए का घर हैं, फिर भी वह खुश नहीं है । घर है पर घरवाले घर में नहीं है । सब दूर अपने अपने घरों में हैं । और

Keep Moving Ahead

Arise ! Awake ! and stop not till the goal is reached. ….. Swami Vivekanand उठो! जागो! | लक्ष्य की प्राप्ति तक रूको नहीं ! ….. स्वामी विवेकानंद  

उड़ान भरो

नए वर्ष में सुबह उठा तो देखा चिड़िया अपने बच्चे की चोंच में दाना डाल रही थी । बच्चे चहक रहे थे । मन को रोक न सका । पूंछ बैठा कि ऐ चिड़िया

सुख का मंत्र : आत्म निर्भर : Self Dependent :

जब मेरे बड़े मित्र भाई शर्मा जी, 65+, मिले तो बोले कि मैं आज कल बड़ा सुखी हूँ, मैंने बच्चों व बहुओ को बोल दिया है कि मैं अब self dependent हो गया हूँ

सुखी रहने का मंत्र : बहुत तर्क मत करो

बहुत तर्क मत करो । तर्क से दुनिया नहीं चलती । प्यार से चलती है । तर्क से बचें । तर्क से दूर रहें । जब उसने कहा कि पृथ्वी गोल नही चौकोर है
Share