प्यार Archive

पंछी भी सिखाते हमें प्यार से रहना

ऐ सुन, ये दुनिया बड़ी न्यारी है इस दुनिया में, तू सबसे प्यारी है कुछ तो बोल, सोच क्या रही है मैं इधर हूँ यार, देख तू क्या रही है सोच रही हूँ कि

अगर मैं कवी होता

अगर मैं कवी होता तो कविता लिखता नदी पे लिखता हवा पे लिखता बच्चों पे लिखता युवा पे लिखता धरती का, दुलार लिखता आसमां का, प्यार लिखता लिखता उसकी, आंखे गीली लिखता खेत की,
Share