Happiness Archive

राजनैतिक मित्र को पत्र

मकरंद भाई, आप की बात अलग है. आप प्रत्यक्ष या परोक्ष राजनीति में एक्टिव हैं. इसलिए आपकी विचारधारा पुर्णतः किसी एक दल से बंधी होगी. चूँकि हम राजनीति में नहीं है इसलिए हम आप

हर साड़ी की एक कहानी होती है

हर साड़ी की एक कहानी होती है । पत्नी जी आज साड़ियां देख रही हैं । पत्नियां 500-1000 साड़ियों में रख देती हैं, और भूल जाती हैं । भूल जाना उनकी जमा योजना का

कुंभ की यादें

चार मई २०१६ की रात मैं, पत्नी व बेटी मुंबई से भोपाल के लिए अमृतसर एक्सप्रेस में सवार हो गए. उधर मामा मामी जी ने अमेठी से ट्रेन पकड़ी. माँ, पिताजी व मौसी जी

मेरी क्रिसमस

हरबती ने घर में आते ही रसोई का दरवाजा खोल दिया धूप अंदर आने के लिए…. धूप के साथ-साथ बाहर का शोर भी घर में आने लगा। हमारी सोसाइटी से जुड़ी दूसरी सोसाइटी के

समाज प्रेम को स्वीकार करे

खबरें समाज, परिवार व रिश्तों पर चिंतन करने को मजबूर करतीं हैं। खबरें परिवर्तन करने को चीखती चिल्लाती है। खबरें कहतीं हैं कि अब हठ त्याग दो और समय के अनुसार कुछ तो परिवर्तन

अच्छा जीवन जिएं

अच्छा जीवन जिएं । खुली हवा में रहें । फूलों के बीच रहें । सकारात्मक लोगों के बीच रहें । आशावादी लोगों के साथ रहें । समान विचार वालों के बीच रहें । जो

खुशी के बहाने

खुश रहने के बहाने मस्त होते हैं, जैसे कि बच्चों ने बताया कि आज मिक्की  माउस का बर्थडे है, आज पार्टी होगी. बहाना कोई भी हो, खुश रहना जादा जरुरी है. हैप्पी बर्थडे मिक्की

कुछ नया करो

हम प्रत्येक दिन नये विचारों के साथ सुबह शुरुआत करते है, कुछ नये सपने, कुछ नये लक्ष्य, कुछ नये विचार. हमारी सतत् कोशिश है कि हम पहले से बदल जाये, शायद हर दिन कोई

उसको प्यार

जब जब जिंदगी की कहानी लिखूं गा तेरा नाम जरूर लिखूंगा । मैंने और बृजेश ने स्कूल व कॉलेज साथ साथ किया । कॉलेज में भी बृजेश सबसे मिलनसार हंसमुख और बातूनी था ।

हर खुशी की कीमत होती है

रूचि की यादें : फरीदाबाद शहर में मैं जिस जगह रहती हूँ वहाँ मिलता तो सब कुछ है आस-पास की दुकानों में पर बाज़ार जैसा नहीं है।बाज़ार जाने के लिए बीच रास्ते में एक
Share